Random Posts

First Step to Change “Nooo”

First Step to Change “Nooo”

यह प्रोग्राम हर स्कूल में होना चाहिए और बच्चो को जानना चाहिए की समाज में कई छुपे चेहेरे हैं, जो उन्हें नुकसान पंहुचा सकते हैं|

Click YouTube Video

----------------------------------*------------------------------------------*-------------------------------------------

सवाल:-

First Step to Change “Nooo” प्रोग्राम क्या हैं?, बच्चो को यह प्रोग्राम जानना क्यों जरुरी हैं और उस समय क्या कर सकते हैं? आप हमे अपने स्कूल में कैसे बुला सकते हैं और हमलोग यह प्रोग्राम करवाने कितना चार्ज लेते हैं? 
----------------------------------*------------------------------------------*-------------------------------------------

*First Step to Change “Nooo” प्रोग्राम क्या हैं?

First Step to Change “Nooo” में बच्चो को यह बताते हैं की आपको कोई छुए तो क्या वह Good Touch हैं या Bad Touch हैं| हमारा शरीर के चार जगहो पर हमारा करीबी जैसे माता-पिता या हमारा ध्यान रखने वाला ही Touch कर सकते हैं और उन जगहों पर छूने पर सुरक्षित और अच्छा महसूस करते हैं, तो उसे Good Touch कहेंगे, पर अन्य लोग बुरा सोच के साथ जब हमे उन चार जगहों पर Touch करता हैं और हमे असुरक्षित और बहुत बुरा महसूस होता हैं, तो उसे Bad Touch कहेंगे|
                वह शरीर के चार जगह यह हैं:-  1. हमारा होठ, 2. हमारा छाती 3.दोनों पैरो के बीच आगे का हिस्सा और 4. पीछे का हिस्सा|
जब हमे सुरक्षित और बुरा महसूस होता हैं, तो हमे बचने के लिए जोर से "Nooo" बोलना हैं|
----------------------------------*------------------------------------------*-------------------------------------------

*बच्चो को यह प्रोग्राम जानना क्यों जरुरी हैं और उस समय क्या कर सकते हैं?

2007 में पुरे भारत में Ministry of Women and Child Development ने बाल यौन शोषण (Child Sexual Abuse) का सर्वेक्षण (survey) करवाया गया था, जिसमे 53 % बच्चे या हर दूसरा बच्चा यौन शोषण का एक बार या एक बार से अधिक उसके साथ शोषण हुआ था और उसमे से यौन शोषण का शिकार में 53 % लड़के थे| इसलिए हर स्कूल में यह प्रोग्राम होना चाहिए| 
        हर माता-पिता या शिक्षक अपने बच्चे या छात्रों को बताये की Good Touch, Bad Touch क्या हैं और उनको बताये की क्या करना चाहिए:-
1. जब हमारे साथ गलत हो रहा होता हैं, तो उस समय जोर से "Nooo" बोले और भाग जाएँ|
2. तुरंत सबसे विश्वासी के पास जाये, उन्हें बताये की मेरे साथ क्या हुआ हैं|
3. हर माता-पिता या शिक्षक तुरंत बच्चे के बातो को समझिये और उन्हें तुरंत सुरक्षित महसूस कराये|
4. आपको क़ानूनी कारवाई करनी हैं और मदद चाहिए तो "Child Line के हेल्पलाइन नंबर 1098" पर मदद मांगे|
----------------------------------*------------------------------------------*-------------------------------------------

*आप हमे अपने स्कूल में कैसे बुला सकते हैं और हमलोग यह प्रोग्राम करवाने कितना चार्ज लेते हैं?

Keep Smiling Foundation का मोबाइल नंबर 97080 65432 (आशीष बरनवाल) से बात कर सकते हैं और एक दिन आप हमे बुला कर अपने स्कूल में  First Step to Change “Nooo” का प्रोग्राम करवा सकते हैं|
Keep Smiling Foundation  यह प्रोग्राम करवाने के लिए जो खर्च होता हैं, वही लिया जाता हैं| तो हमलोग खर्च के रूप में आने जाने का खर्च, प्रोजेक्टर और लेपटोप का भाडा, और एक आदमी का खर्च लिया जाता हैं| हमारा ऑफिस : पाथरडीह, धनबाद, झारखण्ड हैं|
----------------------------------*------------------------------------------*-------------------------------------------
सुझाव:-
सभी स्कूलों में एक बार यह प्रोग्राम अवश्य होना चाहिए, आप हम से मत कराये लेकिन आप अपने स्कूल में जरुर कीजिये| क्या पता कोई बच्चा यौन शोषण शिकार हो रहा होगा और मानसिक यातनायें  सह रहा होगा| हमारा यही कोशिश रहेगी कि सभी बच्चे सुरक्षित और खुसाल रहे|

धन्यवाद

आशीष बरनवाल



Post a Comment

0 Comments