Random Posts

Scholar #1 Udit Kumar


Keep Smiling Foundation का पहला स्कॉलर उदित कुमार, जो संस्था से नवम्बर, 2018 से जुड़ा हुआ हैं|
------------------------------------------*----------------------------------------*-------------------------------------
सवाल:
कौन हैं उदित कुमार? इसमें क्या खासियत हैं? इसके सामने क्या चुनौती आया?  हमारी संस्था ने क्या मदद किये? अभी क्या कर रहा हैं?

------------------------------------------*----------------------------------------*-------------------------------------
कौन हैं उदित कुमार?
उदित कुमार क्लास 10, 2017 में धनबाद का 7th topper रहा हैं और क्लास 12th में अपने कॉलेज में topper रहा है| बातो को बहुत ही अच्छे तरह से समझता हैं, पढने के साथ डांस का शौक भी हैं और बहुत जगहों में परफॉर्म भी किया हैं|

उदित अपने परिवार के पांच सदस्यों में चौथा सदस्य हैं और उनके पिताजी दिहाड़ी मजदूरी करते हैं| उनका मंथली इनकम करीब 7000 रुपये के आसपास कमाते हैं और उसी इनकम में परिवार का भरन-पोषण, घर का भाडा और पढाई का खर्च होता हैं| 
------------------------------------------*----------------------------------------*-------------------------------------
उदित में क्या खासियत हैं?
उदित बहुत ही होनहार और हिम्मत वाला लड़का हैं, जो चुनौती से डरता नहीं, सामना करता हैं| उसे अपने आपको एक I.P.S. ऑफिसर बनने का सपना देखा हैं और लगन से अपना पढाई कर रहा हैं| उदित को डांस करना बहुत ही पसंद हैं और कई प्रतियोगिता में भाग लिया हैं और विजेता बना हैं|
उदित कभी भी चुनौती से हार नहीं माना हैं और संघर्ष किया हैं और अभी कर रहा हैं|
------------------------------------------*----------------------------------------*-------------------------------------
उदित के सामने क्या चुनौती आया?
उदित के सामने कई चुनौतियाँ थी, लेकिन उसने हल निकाला:-

  1. कोचिंग का फ़ी: उसके परिवार में इतना सामर्थ्य नहीं था की उसे कोचिंग में पढ़ा सके, पर उसने कई अच्छे सर से फ्री में कोचिंग लिया|
  2. Competition Books: उदित नए Competition Books नहीं खरीद सकता था, इसलिए पुराना या अपने साथी से लेकर पढाई किया|
  3. Limited खर्च करना: उदित कभी भी फिजूल खर्च नहीं करता था|
------------------------------------------*----------------------------------------*-------------------------------------

हमारी संस्था ने उदित को कैसे  मदद किये ?
Keep Smiling Foundation स्कूलों  में जाकर स्कालरशिप फॉर्म भरवाते थे, विद्या विहार गर्ल्स स्कूल, सुदामडीह के प्रिंसिपल ने उदित के बारे में और उसे मदद की आवश्यकता हैं हमे बताया गया था| लेकिन उसके बारे में और जानकारी हमे नहीं मिली थी| एक महिना के बाद उदित ही हमे कॉल किया फिर उसे  हम से मिलने के लिए  ऑफिस आने को कहा|
उदित हमारे ऑफिस में आकर अपनी समस्या बताया और फिर अपनी पढाई कैसे कर रहा हैं और आगे क्या सोच रहा हैं वह भी बताया|

Keep Smiling Foundation ने उदित का कहानी सुनने के बाद उसे विश्वास दिया गया की आने वाले समय में कोई भी समस्या होगी हमारी संस्था उसके साथ खड़ा रहेगी|
उदित को समय समय पर Notebooks, Competition Books, अन्य सामान और कुछ रुपये दिया गया|
फिर समाज के कई लोगो को उसके बारे में बताये, तो मदद करने के लिए आगे आये और मदद किये भी|

लेकिन, उदित को इससे भी ज्यादा मदद की आवश्यकता थी और हमारी संस्था उतनी मदद नहीं कर सकती थी|
तब हमारी संस्था ने Buddy4Study India Foundation में फॉर्म भरवाया गया और समाज के जागरुक नागरिक ने आगे आया और अपनी माँ के नाम से "चन्द्रावती देवी मेमोरियल छात्रवृत्ति" उदित को प्राप्त हुआ|
जिससे वह कई प्रतियोगिता का फॉर्म भरा, अपना जरुरी Competition Books ख़रीदा और स्कूल का 12th का फॉर्म भरा और उसके जीवन में कुछ संघर्ष कम हुआ|
------------------------------------------*----------------------------------------*-------------------------------------
अभी उदित क्या कर रहा हैं?

उदित JEE Main 2019 में qualified नहीं कर पाया| उसके बाद Buddy4Study India Foundation ने अच्छी शिक्षा के लिए कोलकाता में तैयारी करवाया जा रहा हैं| 
------------------------------------------*----------------------------------------*-------------------------------------

14/12/2019 मेरी कलम से,
हर वह बच्चा जो पढने में होनहार हैं, उसे पढने का अधिकार हैं और समाज का जिम्मेदारी हैं की उसे पढाये, साथ दे और भरोसा दे की हम उसके साथ हैं|

उदित को शुभकामनाएं दीजिये! इस बार सफलता प्राप्त करें|
धन्यवाद
आशीष बरनवाल
संस्थापक
Keep Smiling Foundation

Post a Comment

0 Comments